ताजा खबर

जानें कैसे रहें दफ्तर और घर दोनों जगह फिट

लाइफ स्टाइल बदलने से वर्किंग कल्चर भी बदल गया है. पहले ड्यूटी के मायने होते थे 9 से 5 वाला ऑफिस टाइम. पर मल्टीनेशनल वर्ककल्चर ने ऑफिस के काम को 24 घंटे के वर्क कल्चर में बदल दिया है. जरा सोचें कि 9-10 घंटे की ऑफिस ड्यूटी के बाद थके-हारे जब आप घर पहुंचते हैं, तो आराम करने के सिवाए कुछ नहीं सूझता है . ऐसे में अगर घर के किसी सदस्य की डिमांड आ जाए कि जरा बाहर चलना है या बाजार से कुछ सामान लाना है तो क्या गुजरती होगी, अंदाजा ही लगाया जा सकता है. 
 
 
ऑफिस में करें ये काम-
 
घर या ऑफिस में लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का प्रयोग करें. इससे शरीर एक्टिव रहेगा है .
बीच-बीच में उठकर टहलकदमी करते रहें. फोन पर बात करते समय कुर्सी छोड़कर चहलकदमी करते हुए बातें करें.
कंप्यूटर स्क्रीन छोड़कर ऑफिस से बाहर आकर आसमान का भी नजारा लें. कुदरत के करीब जाने की भी कोशिश करें.
लंच टाइम में सारा खाना एकसाथ ना खाएं. 9 घंटे की ड्यूटी में दो ब्रेक लेकर थोड़ा-थोड़ा करके खाना खाएं.
खाने में फलों को जरूर शामिल करें. मौसम के मुताबिक फलों का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद रहता है.
चाय पीने ऑफिस से निकल सड़क वाले टी-स्टॉल पर जाएं. ऑफिस की कुर्सी पर बैठे-बैठे चाय की चुस्कियां न ले . 
आंखों को ठंडे पानी से धोएं. और कुछ देर पलक बंद करके उंगली से आंखों को सहलाएं.
कमर के पीछे दोनों हाथों का दबाव बनाकर आप अपनी थकान को दूर कर सकते हैं. 


इस खबर पर अपनी राय दे

*

ताज़ा वीडियो


योग : आइए जानें क्या है योग, योग अंतरराष्ट्रीय योग दिवस


Breaking News


योग के बारे में जानकारी देते योग गुरु स्वामी कर्मवीर


मेरठ के समाचार