ताजा खबर

सुभारती विवि : फैशन शो में रैम्प पर उतरे छात्र-छात्राएं

मेरठ। स्वामी विवेकानंद सुभारती विश्वविद्यालय के नंदलाल बोस सुभारती कॉलेज ऑफ फाईन आर्ट एंड फैशन डिजाइन द्वारा
मांगल्य प्रेक्षागृह में डिजाइन कैसल 2019 का भव्य आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ स्वामी विवेकानंद सुभारती विश्वविद्यालय की
संस्थापिका डॉ. मुक्ति भटनागर एवं सुभारती विवि की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. शल्या राज, कुलपति डॉ. एन.के आहूजा, फाईन आर्ट
कॉलेज के प्राचार्य प्रो पिंटू मिश्रा ने बॉलीवुड की एक्टर भानी सिंह एवं मॉडल अक्सादी के साथ किया।
 
मांगल्य प्रेक्षागृह में जैसे ही बालीवुड की अभिने़त्री भानी सिंह ने प्रवेश किया तो वहां मौजूद फैशन के दीवानों ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया। सुभारती फाईन आर्ट कॉलेज से डिग्री व डिप्लोमा कर रहे छात्र छात्राओं के परिधानों को रैम्प पर उतारा गया। रंग बिरंगी चमकती लाइटों व मंत्रमुग्ध करने वाले म्यूजिक में रैम्प पर चलते मॉडल दर्शकों के आकर्षण का केंद्र बने हुए थे। कुलपति डा. एन.के आहूजा ने सभी छात्र छात्राओं को कार्यक्रम के आयोजन की बधाई देते हुए कहा कि आज का यह मंच हिन्दुस्तान ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया की विभिन्न संस्कृति को एक रंग में पिरोकर एकता का संदेश दे रहा है। उन्होंने कहा कि फाइन आर्ट एवं फैशन डिजाइन के क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाएं है इसके लिये छात्र-छात्राओं को कठिन परिश्रम करके मंजिल तक पहुंचना होता है, जो गुरुओं के बताएं गये रास्ते पर चलकर प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने सभी मॉडल्स को अपनी शुभकामनाएं दी।
सुभारती विश्वविद्यालय की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. शल्या राज ने सभी मॉडल, एक्टर एवं छात्र छात्राओं के द्वारा रैम्प वाक पर विभिन्न परिधानों कोप्रदर्शित करने पर उनका उत्साह वर्धन करने के साथ देश का नाम रोशन करने के लिये अपनी शुभकामनाएं दी।
फाईन आर्ट कॉलिज के प्राचार्य प्रो पिंटू मिश्रा ने बताया कि इस फैशन शो में 20 राउंड रखे गये है जिसमें 80 महिला एवं पुरुषों ने रैम्प पर उतर कर अपना जलवा बिखेरा। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम के आयोजन का मुख्य उद्देश्य छात्र छात्राओं में फैशन की कला का सर्वांगीण विकास के साथ एक कामयाब मॉडल बनने हेतु उन्हें फैशन की तकनीकी बारीकियां सिखाई गई है। उन्होंने कहा कि कलाकार बनने के लिये रचनात्मकता के साथ आत्मविश्वास एवं भारतीय संस्कृति से परिचत होना आवश्यक है जिससे फैशन की बेसिक तकनीक सीखकर बॉलीवुड इंडस्ट्री में कदम रखा जा सकता है। उन्होंने
बताया कि सुभारती फाईन आर्ट कॉलिज दिल्ली सहित उत्तर प्रदेश का पहला ऐसा फैशन कॉलेज है जहां कला की विभिन्न विधाओं को आधुनिक तरीकों से सिखाया जाता है और छात्र छात्राओं को इस अंदाज़ में फैशन की शिक्षा दी जाती है कि वह प्रतिभाशाली होकर रोजगार भी पा सके है और अपनी प्रतिभा से देश का रोशन कर सके।
फैशन शो की संयोजिका डॉ. रैना मेहता ने बताया कि सभी छात्र-छात्राओं ने प्रसिद्ध कोरियोग्राफर कपिल गोहरी के नेतृत्व में इस शो में विभिन्न राउंड के माध्यम से रैम्प पर परिधानों को पेश किया, जिसमें रैम्प पर चलने का तरीका, खूबसूरत ड्रेस, आकर्षक मेकअप को दर्शाया गया, जिससे पूरे फैशन शो में माहौल बहुत रंगारंग बना रहा। उन्होंने बताया कि निर्णायक मण्डल में फैशन स्टाइलिस्ट अर्चना शर्मा, मॉडलव एक्टर अजय बालियान, ज्वैलरी व फैशन डिजाइनर डॉ. नीता जैन रहे। इस शो में दिल्ली, मेरठ, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर के साथ कई राज्यों केमॉडलों ने अपने जलवे बिखेरे जिन्हें स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। डिजाइनर अब्दुल रहमान, निधि जैन, राधिका गौतम, नगेन्द्रचौधरी, आदि चौधरी, गौरव सिंह, यश अग्रवाल, सोनियां रमजादा, मोहित मेदायाल आदि  को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में शाही लिबास,
तुर्की स्टाइल, वाईन सनशाइन, वेडिंग, खादी, पंचतत्व, मधुबनी आदि
सहित 20 विधा के परिधानों को मॉडलों के द्वारा अपनी मनमोहक
अदाओं से रैम्प पर प्रस्तुत किया गया।
इस अवसर पर डॉ. भावना ग्रोवर, डॉ. पूजा गुप्ता, डॉ. मोहिनी, डॉ.
प्रीती, डॉ.  कविता, डॉ. सोनल, सनी शर्मा, पवनेन्द्र कुमार, कंचन गुप्ता,
अंजलि सिंह, कृष्ण कुमार,शालिनी वर्मा, साधना, विधि खण्डेलवाल,
सोम्भित मुखर्जी, नलिन सिंह, नेहा सिंह, योगेश कुमार, मान्या
माहेशवरी, साधना, रशिका, शैल्जा, अन्तरिक्ष चौधरी आदि का सहयोग
रहा।


इस खबर पर अपनी राय दे

*

ताज़ा वीडियो


कारगिल जीत की 20 वीं सालगिरह पर विजयपथ का आयोजन


पर्यावरण एवं स्वच्छता क्लब ने तुलसी के पौधे किये विपरित


धर्मेंद्र की उस कॉल का राज, जिससे टूट गई थी हेमा जितेंद्र की शादी!


मेरठ के समाचार