ताजा खबर

देश में रक्षा उपकरण बनाने में असफल भारत

नई दिल्ली । रक्षा उपकरण बनाने की सभी योजनाओं के  बाद भी भारत आज भी देश में रक्षा उद्योग विकसित नहीं कर पाया है। ऐसा इसलिए  है क्योंकि भारत विश्व का सबसे  अधिक हथियार खरीदने वाला देश बना हुआ है। यह बात 'अंतर्राष्ट्रीय शांति अनुसंधान संस्थान' द्वारा जारी एक रिपोर्ट में सामने आई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2013-17 के बीच विश्वभर में आयात किए हुए  हथियारों में अकेले भारत की हिस्सेदारी 12 फीसद है। जाहिर है कि देश के अंदर रक्षा उपकरणों के निर्माण नहीं होने के कारण भारतीय सेना को सैन्य उपकरणों के लिए दूसरे देशों पर निर्भर रहना पड़ रहा है।
 
भारत के बाद इन देशों का नाम-
 
हथियार एवं  रक्षा उपकरणों को आयात करने वाला देशों की लिस्ट में भारत के बाद सऊदी अरब, चीन, ऑस्ट्रेलिया, अल्जीरिया, मिस्र, यूएइ,  इराक, पाकिस्तान तथा इंडोनेशिया जैसे देश हैं, जिन्होंने भारी मात्रा में हथियार बाहर से खरीदे हैं। भारत ने वर्ष 2013-17 के बीच में सबसे अधिक  हथियार रूस से खरीदे हैं। कुल खरीदे गए हथियारों में रूस की हिस्सेदारी 62 फीसद है, जबकि अमेरिका से 15 फीसद और इजराइल से 11 फीसद हथियार खरीदे गए हैं।


इस खबर पर अपनी राय दे

*

ताज़ा वीडियो


BJP Lok Sabha 1st full list | आडवाणी का टिकिट क्यों कटा


Breaking News 22 March 2019


मुस्लिम समाज के लोगों ने गरीबों के साथ खेली होली


मेरठ के समाचार