ताजा खबर

ईरान ने ट्रंप की धमकी पर किया पलटवार, कहा-‘हमें मत देना तबाह करने की धमकी’

नई दिल्ली। यूनाईटेड नेशन्स और ईरान के बीच तनाव थमने का नाम नहीं ले रहा है। दोनों ही देशों के पॉलिटिकल लीडर लगातार aggressive statements देने के साथ ही एक-दूसरे पर पलटवार कर रहे हैं। ईरान के विदेश मंत्री ने कहा है कि, ‘यूनाईटेड नेशन्स के प्रेसीडेन्ट डोनाल्ड ट्रंप की नर संहार वाली धमकी से ईरान मिट नहीं जाएगा।’
जरीफ ने ट्विटर के माध्यम से कहा कि, ‘ Iranians हजारों वर्ष से सिर ऊंचा किए खड़े हैं जबकि सारे attackers का नामोनिशान मिट चुका है।Economic terrorism and massacre की threat से ईरान का खात्मा नहीं होने वाला है। एक ईरानी को कभी धमकी मत देना, उसे सम्मान दीजिए, तभी वह काम करेगा।’

ईरान के विदेश मंत्री का यह बयान ट्रंप की धमकी के बाद आया है । दरअसल, दो दिन पूर्व ट्रंप ने कहा था कि, ‘यदि  ईरान यूनाईटेड नेशन्स के हितों पर अटैक करता है तो उसे पूरी तरह बर्बाद कर दिया जाएगा।’ ट्रंप ने ट्वीट किया था कि, ‘यदि ईरान युद्ध करना चाहता है तो यह उसका ऑफिसियली एण्ड होगा। यूनाईटेड नेशन्स को फिर से धमकी मत देना।’

वॉशिंगटन और तेहरान के बीच रिलेशन्स एक वर्ष पहले खराब हुए जब ट्रंप ने 2015 की ईरान के साथ हुए न्यूक्लियर डील को निरस्त कर दिया था और उस पर कड़े बैन लगा दिए।

ईरान के अफसर लगातार यूएस की पाबंदियों की आलोचना कर रहे हैं और इसे आर्थिक आतंकवाद की संज्ञा दे रहे हैं। ईरान का आरोप है कि यूएस की पाबंदियों के कारण आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई भी प्रभावित हो रही है।’



इसी माह यूनाईटेड नेशन्स ने तेहरान से आयल इम्पोर्ट्स को लेकर इंडिया समेत कुछ देशों को दी गई छूट को समाप्त करते हुए उसकी परेशानियां बढ़ा दी थीं। इसके बाद यूनाईटेड नेशन्स ने ईरान से कथित खतरे को देखते हुए खाड़ी में करियर ग्रुप और बी-52 बॉम्बर की तैनाती कर दी थी।

बीते  सप्ताह ट्रंप एडमिनिस्ट्रेशन ने ईरान समर्थित ईराकी समूहों से खतरे का हवाला देते हुए अपने कुछ डिप्लोमेट्स को वापस आने का आदेश दिया है। रविवार को इराक की कैपिटल बगदाद के ग्रीन जोन में एक रॉकेट दाग दिया गया। इस क्षेत्र में कई गवर्नमेंट ऑफिसेज हैं और यूएस मिशन समेत कई इम्बैसीज भी हैं। यद्यपि, यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि इस अटैक के पीछे किसका हाथ है।’

 
 


इस खबर पर अपनी राय दे

*

ताज़ा वीडियो


एंटी करप्शन की टीम ने यूनिवर्सिटी से रिश्वत लेते हुए किया एक बाबू को गिरफ्तार


दस दिवसीय संस्कृत कार्यशाला का समापन


Evening News 17 JUNE 2019


मेरठ के समाचार