ताजा खबर

विश्व आर्थराइटिस दिवस पर मेरठ के लोकप्रिय अस्पताल में जोड़ प्रत्यारोपण के मरीजों ने लगाई मैराथन

कुल्हे, कंधा व घुटने के जोड़ प्रत्यारोपण मरीजों ने मैराथन दौड़ में भाग लेकर दिखाया उत्साह, आर्थराईटिस मुक्त जीवन जीने का लिया संकल्प। निःशुल्क शिविर में हुआ 251 मरीजों का इलाज।

मेरठ- लोकप्रिय अस्पताल में विश्व आर्थराइटिस दिवस के उपलक्ष में निःशुल्क परामर्श शिविर आयोजित किया गया जिसमें लोकप्रिय अस्पताल के विख्यात हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. ऋद्धिवर्धन के द्वारा कुल्हे, कंधा एवं घुटने आदि के जोड़ प्रत्यारोपण हो चुके मरीजों की मैराथन दौड़ आयोजित हुई जिसमें सभी पूर्व मरीजों ने जमकर दौड़ लगाई और अपने अच्छे जोड़ प्रत्यारोपण का परिचय दिया। मैराथन का शुभारंभ लोकप्रिय अस्पताल के निदेशक डा. रोहित रविन्द्र ने हरी झंडी दिखाकर किया। मैराथन में भाग लेने वाले सभी मरीजों की डा. ऋद्धिवर्धन ने बी.एम.डी. जाँच एवं फिजियोथैरेपी कराई और साथ ही जोड़ प्रत्यारोपण हुए मरीजों के जीवन में आए बदलाव व दर्द रहित जीवन जीने के बारे में उनसे बातचीत की गई।
विश्व आर्थराइटिस दिवस को विशेष बनाने के लिये निःशुल्क शिविर में डा. ऋद्धिवर्धन ने 251 मरीजों की विभिन्न प्रकार की जांच की साथ ही हड्डियों को मजबूत बनाने हेतु मरीजों को परामर्श दिया गया। शिविर में गाजियाबाद निवासी 32 वर्षीय लेखराज जिनके दोनो कुल्हों का प्रत्यारोपण किया गया था, उन्होंने लोकप्रिय अस्पताल को धन्यवाद देते हुए कहा कि पहले खराब कुल्हों के कारण वह चल फिर नही पा रहे थे लेकिन डा. ऋद्धिवर्धन ने सफलतापूर्वक उनके दोनो कुल्हो का प्रत्यारोपण कर दिया और अब वह दर्द रहित सामान्य जीवन जी रहे है।
डा. ऋद्धिवर्धन ने बताया कि आर्थराईटिस एक गंभीर बीमारी है जो दर्द, सूजन, अकड़न एवं बढते वजन व उम्र के कारण आदि से बढ़ जाती है और स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही भी बड़ा कारण बनती है। उन्होंने आर्थराईटिस की रोकथाम हेतु बताया कि वजन पर ध्यान देने, नियमित व्यायाम करने व पैदल चलने के साथ समय समय पर उचित जांच करके इस गंभीर बीमारी की रोकथाम की जा सकती है। उन्होंने बताया कि जोड़ रोग से परेशान मरीज अब प्रत्यारोपण के द्वारा सामान्य जीवन व्यतीत कर सकते है जिसमें मरीज की ज्वाईंट रिप्लेसमेन्ट सर्जरी के द्वारा खराब हिस्से को निकाल कर नया जोड़ लगा दिया जाता है जिससे दर्द पूरी तरह समाप्त हो जाता है। उन्होंने कहा कि सर्जरी को हमेशा आखिरी विकल्प रखा गया है किन्तु ज्वाईंट रिप्लेसमेन्ट एक सफल आॅपरेशन है जिससें दर्द पूरी तरह चला जाता है और अगले दिन से ही रोगी चल फिर सकते है।
उन्होंने बताया कि शिविर में आपरेशन के लिये चुने गये मरीजों को लोकप्रिय अस्पताल द्वारा 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी साथ ही आयुष्मान भारत योजना के तहत आने वाले रोगियों का इलाज पूर्ण रूप से निःशुल्क किया जाएगा।
लोकप्रिय अस्पताल के निदेशक डा. रोहित रविन्द्र ने बताया कि जोड़ प्रत्यारोपण के मरीजों ने मैराथन में उत्साहपूर्वक भाग लेकर आर्थराईटिस रहित जीवन जीने का संकल्प लिया और शिविर के माध्यम से मरीजों की निःशुल्क जांच की गई है। उन्होंने बताया कि लोकप्रिय अस्पताल में विश्वस्तरीय आधुनिक यंत्रों द्वारा मरीजों का इलाज अनुभवी डाक्टरों के माध्यम से सेवा भाव के साथ किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आमतौर पर प्रत्यारोपण को लेकर लोगो में घबराहट व डर रहता है लेकिन जोड़ प्रत्यारोपण का आॅपरेशन बहुत सरल व सफल होता है जिससे जीवन भर दर्द निवारक गोलियां खाने से छुटकारा मिलने के साथ रोगी पूर्व की भांति सामान्य जीवन जीने लगता है। इस अवसर पर उन्होंने डा. ऋद्धिवर्धन एवं उनकी पूरी टीम को मैराथन व निःशुल्क शिविर के सफल आयोजन की बधाई दी। इस मौके पर डा. संजय वर्मा, डा. विरेन्द्र खौखर, डा. पी.डी. शर्मा, डा. आर. के. अग्रवाल, डा. सारा, मौ. रिहान का विशेष योगदान रहा।


इस खबर पर अपनी राय दे

*

ताज़ा वीडियो


अवैध टावर के विरोध में शौकत कॉलोनी के निवासियों ने घेरी कलेक्ट्रेट


दसवें अरुण सिंह अन्ना मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट के उद्घाटन मैच में आपस में भिड़ेंगीं चार टीमे


Evening news 01 September 2019


मेरठ के समाचार