ताजा खबर

सरोद वादक उस्ताद अमजद अली खान को जन्मदिन मुबारक हो

1945 में आज ही के दिन ग्वालियर में संगीत के सोनिया बंगश घराने कि छठी पीढ़ी में जन्म लेने वाले उस्ताद अमजद अली खान को संगीत विरासत में मिला. उन्होंने महज 12 साल की उम्र में एकल सरोद वादक का पहला सार्वजानिक प्रदर्शन किया. उन्होंने शिवांजलि,हरिप्रिया कानदा, किरण रजनी, सुहाग भैरव, ललित धवनि, श्याम श्री और जवाहर मंजरी जैसे कई रंगों कि रचना की. उन्होंने यूनेस्को पुरस्कार, कला रत्न पुरस्कार, पद्मश्री, पद्मभूषण, पद्म विभूषण, संगीत नाटक अकादमी और तानसेन पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है.


इस खबर पर अपनी राय दे

*

ताज़ा वीडियो


वायरस का स्ट्रेन अलग किया गया, भारत में 6 महीने में शुरू हो जाएंगे वैक्सीन का मानव पर परीक्षण


""Government Strong," Says Sena As Uddhav Thackeray


दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर सील, पुलिस की चेकिंग के कारण यूपी गेट पर लगा लंबा जाम


मेरठ के समाचार